Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

होम्योपैथिक चिकित्सा का अवलोकन

होम्योपैथी क्या है? होम्योपैथी, या होम्योपैथिक दवा, एक चिकित्सा दर्शन और अभ्यास है जो इस विचार पर आधारित है कि शरीर में स्वयं को ठीक करने की क्षमता है। होम्योपैथी की स्थापना 1700 के दशक के अंत में जर्मनी में हुई थी और पूरे यूरोप में व्यापक रूप से प्रचलित है। होम्योपैथिक दवा बीमारी के…

Read more

होम्योपैथी : उपयोग और दुष्प्रभाव

होम्योपैथी एक ऐसी चिकित्सा है जिसे पहली बार 18 वीं शताब्दी में सैमुअल हैनिमैन द्वारा परिभाषित किया गया था। होम्योपैथिक चिकित्सकों का कहना है कि एक बीमार व्यक्ति का इलाज एक ऐसे पदार्थ का उपयोग करके किया जा सकता है जो एक स्वस्थ व्यक्ति में बीमारी के समान लक्षण पैदा कर सकता है।होम्योपैथी में, लक्षणों…

Read more

होम्योपैथी: सभी के लिए प्राकृतिक उपचार

होम्योपैथी क्या है? होम्योपैथी एक चिकित्सा प्रणाली है जो इस विश्वास पर आधारित है कि शरीर अपने आप ठीक हो सकता है। जो लोग इसका अभ्यास करते हैं वे पौधों और खनिजों जैसे कम मात्रा में प्राकृतिक पदार्थों का उपयोग करते हैं। उनका मानना ​​​​है कि ये उपचार प्रक्रिया को उत्तेजित करता  हैं।इसे जर्मनी में…

Read more

होम्योपैथी – एक बेहतर स्वास्थ्य प्रणाली

होम्योपैथी पूरक और वैकल्पिक चिकित्सा (Alternative Treatment) के सबसे लोकप्रिय रूपों में से एक है। यह दो सिद्धांतों में निहित है:कि " लायक क्योरस लायक " (“Like Cures Like”) यानी बीमारी को ऐसे पदार्थ से ठीक किया जा सकता है जो स्वस्थ लोगों में समान लक्षण पैदा करता है; और "न्यूनतम खुराक का नियम" (Minimum…

Read more